पालकमंत्री एकनाथ शिंदे के स्वस्थ्य होने के लिए महामृत्यूंजय जप व महाआरती आयोजन।

ठाणे। देशव्यापी कोरोना महामारी की समस्याओं से निजात पाने व नागरिकों के हितों को ध्यान में रखते महाराष्ट्र राज्य के ठाणे जिला पालक मंत्री एकनाथ शिंदे पिछले 6 महीने से जिले के सभी क्षेत्रों में अतिआवश्यक सेवाएं उपलब्ध कराते हुए अपनी जीवन की चिंता किये बिना लोगों की सेवा में रात दिन अपने आपको झोंक दिया जिस वजह से कोरोना संक्रमित मरीजों के संपर्क में आने से स्वयं कोरोना वायरस की चपेट में आ गये।जिस कारण से उन्हें उपचार हेतु अस्पताल में भर्ती होना पड़ा है।

राज्य नगरविकास मंत्री तथा ठाणे जिला पालकमंत्री एकनाथ शिंदे और ठाणे महापालिका के विद्यमान नगरसेवक तथा शिक्षण समिती सभापती विकास रेपाळे यह दोनों लोगों के कोरोना वायरस की चपेट में आने से स्वास्थ्य ख़राब हुआ है। जिनके कोरोना से मुक्त स्वस्थ्य होने के लिये ठाणे के कशिश पार्क सोसायटी स्थिति सिद्धीविनायक मंदिर में बुधवार शाम के समय महामृत्यूंजय जप और महाआरती का आयोजन किया गया।
जिस अवसर सभी नियमों का पालन करते हुए प्रभाग क्र. १९ के शिवसैनिक, पदाधिकारी,व सोसायटी के रहवासी शुभचिंतक उपस्थित थे।
पालक मंत्री एकनाथ शिंदे, व शिवसेना के वर्तमान नगसेवक विकास रेपाळे की तबियत जल्दी से जल्दी ठीक होने के लिए पूर्व नगरसेविका नम्रता भोसले ने सिद्धिविनायक सेवा समिती व प्रभाग क्रमांक १९ में शिवसैनिको द्वरा आयोजित कार्यक्रम में पालक मंत्री शिंदे,व नगरसेवक रेपाले के कोरोना मुक्त होने के लिए पूजा अर्चना किया। और गणपति बप्पा से दोंनो लोगों के स्वस्थ होने के लिए आशीर्वाद मांगी।
गणपति बप्पा ठाणे जिला पालक मंत्री एकनाथ जी शिंदे व नगर सेवक रेपाले को जल्द जल्द ठीक हो जायें जैसे यह लोग जिस तरह पहले शहर वासियों की सेवा में दिन रात लगे रहते थे स्वस्थ होकर पुनः लोगों की फिर से उसी तरह की सेवा करें।
पालक मंत्री शिंदे के मार्गदर्शन में कोरोना कॉल के दौरान शिक्षण समिती सभापती, स्थानिक नगरसेवक विकास रेपाळे कोरोना संक्रमण के बढ़ते दुष्प्रभाव को रोकने लिए प्रभाग समिति क्षेत्र में सुरुवाती के दौरान सोडियम हायपोक्लोराईडची सेनेटाइज, प्रभाग में गोरगरीब,जरूरत मंद विधवा, निराधार महिलाओं में अन्नधान्य वितरण करने के साथ वैद्यकीय सेवा समय समय पर जीवन आवश्यक वस्तुओं को उपलब्ध करने का कार्य करते रहे है।

85 views
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: