कोरोना की काली नजर ठाणे मनपा परिवहन सेवा के नौ कर्मियों की हो चुकी है मौत

वरिष्ठ संवाददाता
ठाणे। कोरोना काल के शुरुआती दौर में लॉकडाउन लगाए जाने से लेकर अब तक नागरिकों को बस सेवा उपलब्ध करानेवाली ठाणे मनपा की परिवहन सेवा पर भी कोरोना की काली नजर पड़ी है। परिवहन विभाग में सेवारत नौ कर्मियो की मौत कोरोना संक्रमण के कारण हो गई है। इसके साथ ही अब भी ५० से अधिक संक्रमित परिवहन कर्मचारी का इलाज चल रहा है।
इस स्थिति को लेकर कांग्रेस विधि सेल के ठाणे शहर जिला अध्यक्ष एड. दरम्यान सिंह बिष्ट ने विशेष चिंता व्यक्त की है। उनका कहना है कि इस मामले को ठाणे मनपा प्रशासन गंभीता से ले। साथ ही उन कारकों पर भी रोक लगाए, जिस कारण परिवहन सेवा के कर्मी कोरोना बाधित हो रहे हैं। ठाणे मनपा के परिवहन सेवा के डेढ़ सौ कर्मचारी कोरोना संक्रमित हुए हैं। ये आंकड़े दर्शा रहे है कि स्थिति चिंताजनक है।
एड. सिंह ने मनपा प्रशासन से मांग की है कि इस मामले की जांच की जाए। वैसे परिवहन सेवा ठाणे शहर के लिए अत्यावश्यक है। जब से लोकल ट्रेन बंद हुई है तब से ही ठाणे मनपा की परिवहन सेवा लोगों को ठाणे से मुंबई तथा ठाणे के उपनगरीय व ग्रामीण इलाकों में सेवा दे रही थी। दूसरी ओर सिंह ने इस बात पर विशेष चिंता जताई है कि परिवहन विभाग में सोशल डिस्टेंसिंग का ईमानदाी से पालन नहीं किया जा रहा है। जिस कारण ऐसी स्थिति आई है।
इसके अतिरिक्त कोरोना संकट के समय ठाणे मनपा परिवहन सेवा ने मुंबई तक अपनी सेवा देती आ रही है। परिवहन बसों में कंडक्टर सबसे अधिक लोगों के संपर्क में आते हैं। ऐसी स्थिति में उनमें संक्रमण की अधिक संभावना रहती है। शायद ऐसा ही हुआ होगा। इसे काफी गंभीरता से लिया जाना चाहिए। एड. सिह ने मांग की है कि ठाणे मनपा परिवहन सेवाकर्मियों के स्वास्थ्य की जांच हर सप्ताह नियमित तौर पर की जाए। अन्यथा आगे स्थिति और भी विस्फोटक हो सकती है। इस संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है।

74 views
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: