जल्द जलापूर्ति समस्या से ठाणे शहर को मिलेगी मुक्ति

समर प्रताप सिंह
ठाणे। ठाणे शहर की प्यास बुझाने रोजाना पर्याप्त पानी की आपूर्ति हो रही है। लेकिन इसके बाद भी शहर के कई भागों में जलापूर्ति की समस्या है। इसको लेकर मनपा की महासभा में भी सत्तापक्ष और विपक्ष के नगरसेवक आवाज उठाते रहे हैं। उहापोहों की इस स्थिति में ठाणे मनपा जलापूर्ति विभाग के अधिकारियों का कहना है कि ठाणे शहर को जल्द जलापूर्ति समस्या से मुक्ति मिलेगी। इसके लिए युद्धस्तर पर काम किया जा रहा है। जलापूर्ति विभाग के उपनगर अभि$यंता विनोद पवार का कहना है कि अब ठाणकरों को स्थायी तौर पर जलापूर्ति समस्या से मिलनेवाली है।
ठाणे शहर के लिए विभिन्न माध्यमों से रोजाना ४८५ एमएलडी पानी की आपूर्ति हो रही है।  यह पानी पूरे शहर का प्यास बुझाने पर्याप्त है। लेकिन ऐसा नहीं हो पा रहा है। इस बारे में जलापूर्ति विभाग के उपनगर अभि$यंता विनोद पवार का कहना है कि वागले और घोड़बंदर परिसर में पानी$ की समस्या का मूल कारण जल भंडारण क्षमता की कमी होना है। लॉकडाऊन के कारण जलकुभों के निर्माण का कार्य बाधित हो गया था। जिस कारण ऐसी स्थिति पैदा हुई।
इसके साथ ही कलवा, मुंब्रा और दिवा परिसर में भी जलापूर्ति समस्या का सामना नागरिकों को करना पड़ रहा है। ले$किन इसका कारण जलापूर्ति में कमी नहीं है। इन परिसरों में जलापूर्ति हेतु रिमॉडलिंग का काम किया जा रहा है। नई जालापूर्ति लाइनें बिछाने का काम चल रहा है। इन कामों को पूरा होने में छह महीने से एक साल का समय लग सकता है। इन बातों का जिक्र करते हुए विनोद पवार का कहना है कि कलवा, मुंब्रा और दिवा के लिए ५० एमएलडी अतिरिक्त पानी उपलब्ध कराया जा रहा है। लेकिन वितरण प्रणालियों का काम अधूरा होने के कारण ऐसी स्थिति आई है।
ठाणे शहर में पानी की बर्बादी और चोरी को लेकर उपनगर अभियंता विनोद पवार से सवाल किए गए । पानी की बर्बादी को लेकर उनका कहना था कि तकनीकी कमियों को दूर करने के बाद स्थिति में काफी सुधार है। इसके साथ ही ठाणे शहर में पानी चोरी का मामला नहीं के बराबर है। उन्होंने आश्वस्त किया कि आनेवाले समय में जलापूर्ति को लेकर ठाणेकर राहत का अनुभव करेंगे। जलापूर्ति सिस्टम का रिमॉडलिंग का काम दिवा के साथ ही कलवा आदि में किया जा रहा है। लोगों को जलापूर्ति समस्या से मुक्ति मिलेगी। इसकी सौ प्रतिशत गारंटी है। ऐसा विनोद पवार का कहना था।

45 views
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: