हाथरस में युवती पर हुए अत्याचार के खिलाफ कांग्रेस का सत्याग्रह आंदोलन

समर प्रताप सिंह
ठाणे। ठाणे जिलाधिकारी कार्यालय के सामने कांग्रेस की ओर से हाथरस घटना को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार के खिलाफ सत्याग्रह आंदोलन किया गया। हाथरस में एक युवती के साथ बर्बर कुकृत्य को लेकर सारे देश में गुस्से का माहौल देखा जा रहा है।
ठाणे कांग्रेस शहर जिला अध्यक्ष विक्रांत चव्हाण की अगुवाई में पार्टी के सारे विंग ने उक्त घटना के खिलाफ सत्याग्रह आंदोलन किया।
कांग्रेस का आरोप है कि एक तो अपराधियों ने जघन्य अपराध को अंजाम दिया। लेकिन जब राजनीतिक दलो के नेतागण पीडि़त युवती के परिजनों से मिलने का प्रयास किया तो पुलिस की मदद लेकर उन्हें प्रताडि़त किया गया। अखिळ भारतीय कांग्रेिस के नेता राहुल गांधी जब हाथरस पीडि़त युवती के परिजनों से मिलने जाने लगे तो पुलिस ने उसके साथ धक्कामुक्की की। इस नजारे को सारे में देखा गया।
एड. चव्हाण की अगुवाई में कांग्रेस द्वारा किए गए सत्याग्रह आंदोलन में पार्टी के रत्नागिरी जिला प्रभारी मनोज शिंदे, पूर्व गटनेता संजय घाडीगावकर, महासचिव सचिन शिंदे, कांग्रेस नेता रविंद्र आंग्रे, सेवादल अध्यक्ष शेखर पाटील, महिला अध्यक्षा शिल्पा सोनोने, शहर यूथ अध्यक्ष आशीष गिरी, शहर कांग्रेस के तमाम पदाधिकारी, सभी विभाग अध्यक्ष, ब्लॉक अध्यक्ष व आम कार्यकर्ता आदि शामिल थे।

एड. चव्हाण ने आरोप लगाया कि पीडि़त युवती की मौत के बाद भी उसकी अवहेलना पुलिस ने की। मृतक युवती का अंतिम संस्कार करने का अवसर उसके परिजनों को नहीं दिया गया। योगी आदित्यनाथ की सरकार इस मामले में कोई कठोर कार्रवाई नहीं कर विरोधी दलों की आवाज बंद करने में ही लगी रही।

57 views
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: