दिवा में अवैध बने झोपड़ों को मनपा प्रशासन ने किया जमींदोज

समर प्रताप सिंह
ठाणे। दिवा के साबे गांव स्थित डीजे कांप्लक्स के पीछे अवैध चालों का निर्माण किया गया था। जिसे दिवा के सहायक आयुक्त महेश आहेर के निर्देश पर जमींदोज कर दिया गया। कहा गया है कि अवैध निर्माणों पर रोक लगाने के लिए यह कार्रवाई की गई है। उनका कहना है कि भूमाफिया अवैध चाली का निर्माण एक ही रात में कर लेते हैं। या फिर सरकारी अवकाश के दिन भी चाली का निर्माण करते हैं। अब उस पर कड़ी निगाह रखी जा रही है।
आहेर ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा कि उक्त अवैध निर्माण को लेकर लगातार शिखायतें आई थीं।
जिस कारण उक्त कार्रवाई हुई। दूसरी ओर इस बात को लेकर आम लोगों को विशेष सतर्क रहने की आवशय्कता है कि वे अवैध चाली खरीद कर अपने जीवन भर कमाई बर्बाद नहीं करे। मनपा अधिखारियों का कहना है कि उक्त अवैध चालों का निर्माण प्रमोद निशाद, सनी म्ह्मात्रे और सुनील यादव ने खुले भूखंडों पर किया था। जिसको लेकर मनपा प्रशासन से इसकी सिकायत की गई थी। इसके बाद दिवा प्रभाग समिति के सहायक आयुक्त आहेर ने अतिक्रमण विभाग को उक्त अवैध चाली को जमींदोज करने का आदेश दिया।
दिवा में बने ९० प्रतिशत चाली अवैध हैं। बताया गया है कि भूमाफिया अवैध चालों का निर्माण कर सस्ते दरों पर बेच देते हैं। कम दाम में आशियाना मिलने के कारण लोग अवैध चाली खरीद लेते हैं। सहायक आयुक्त महेश आहेर ने नागरिकों को सावधान किया है कि वे भूमाफियाओं के चंगूल में फंसकर  अपनी जीवन भर की कमाई नहीं गंवाएं।
प्रशासनिक स्तर पर कहा जा रहा है कि दिवा परिसर में जो जमीनें हैं, वह स्थानीय भूमिपुत्रों की हैं। लेकिन भूमाफिया जमीन लेकर वहां अवैध चाल बनाते हैं। आहेर का कहना है कि भूमाफिया एक रात में ही एक चाली का निर्माण कर लेते हैं। या फिर सरकारी अवकाश के दिन चाली तैयार कर उसमेंं डमी परिवारों को घुसा देता है। लेकिन अब अवैध निर्माणों पर लगाम लगाई जाएगी। ऐसा दावा महेश आहेर ने किया है।
89 views
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: