पुजारी गैंग का बताकर करोड़ो रूपये की रंगदारी मांगने वाला फर्जी गैंग गिरफ्तार

मुंबई। मुंबई की समता नगर पुलिस के गिरफ्त आया एक ऐसा गैंग जो खुद को पुजारी गैंग का बताकर एक बिल्डर से एक करोड़ रुपए फ़िरौती मांग रहा था उस गैंग के तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।पकड़े गए आरोपी पैसे नही देने पर जान से मारने की धमकी भी दिए थे।धमकी देने वाले आरोपी ने खुद को रवि पुजारी गैंग से जुड़े अनिल परब उर्फ वांग्या का भतीजा प्रथमेश परब बताता था।जबकि उसका असली नाम सूरज दुबे है और उसका किसी भी गैंग से कोई लेना देना नही है।

पुलिस ने बताया कि कांदीवली पुर्व के ठाकुर विलेज में रहने वाले एक बिल्डर का वर्ली में एसआरए का प्रोजेक्ट चल रहा था। पैसे का दिक्कत आने से उसने वह प्रोजेक्ट दुसरे बिल्डर को बेच दिया तदुपरांत 20 अगस्त को उस बिल्डर को प्रथमेश परब के नाम से फोन आया, खुद को रवि पुजारी गैंग से जुड़े अनिल परब उर्फ वांग्या का भतीजा बताते हुए उससे एक करोड़ रुपए की रंगदारी मांगी  और पैसे न देने पर जान से मारने की धमकी भी दी थी।

जिसके बाद बिल्डर ने समता नगर पुलिस स्टेशन में शिकायत करायी थी। जांच के दौरान 27 अगस्त को पुलिस ने सूरज दुबे उर्फ प्रथमेश परब को बदलापुर से गिरफ्तार कर जब छानबीन की तो उसने बताया कि जयचंद्र नायडू को लग रहा था की कांदिवली का बिल्डर उसे उसका हिस्सा नही देगा। उसी दौरान उसका भतीजा सागर नायडू ने उसे बताया कि वह एक अंडरवर्ल्ड से जुड़े आदमी को जानता है। उसका नाम उसने प्रथमेश परब है।नायडू के कहने पर ही सूरज दुबे उर्फ प्रथमेश परब कांदिवली के बिल्डर को धमका रहा था।

4 views
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: