यूपी में प्रेमी संग प्रेमिका फरार तो मुंबई में पड़ोसी ने किया चाचा का अपहरण।

वरिष्ठ संवाददाता (मुंबई)

मुंबई। कांदिवली से कथित रूप से अगवा किए गए 35 वर्षीय व्यक्ति को पुलिस ने 2 अक्टूबर को चीता कैंप चेंबूर से महज 24 घंटे में किडनैपर से छुड़ा लिया। पुलिस ने दो किडनैपर आरोपियों को भी गिरफ्तार किया है जिसके पास से उस टवेरा कार को बरामद किया जिसमें पीड़ित का अपहरण किया गया था, इस घटना के कुछ मास्टरमाइंड सहित कुछ अन्य आरोपी अभी फरार हैं।
पुलिस द्वारा मिली जानकारी के अनुसार पीड़ित कैटरिंग का कारोबार करता है, जो 90 फीट रोड कांदिवली का रहने वाला है।

पीड़ित जब 1 अक्टूबर को शाम घर से निकला हुआ टहलने के लिए जिस दौरान घात लगाएं किडनैपर उसी समय उसे जबरन कार में बैठाया और वहां से फरार हो गए।

घटना के समय स्पॉट,पर एक स्टॉल विक्रेता द्वारा देखा गया, जिसने पीड़ित के रिश्तेदारों को इसकी सूचना दी। रिश्तेदारों द्वारा इस घटना जानकारी पुलिस को दी गई। मामले की सूचना मिलते ही कांदिवली पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और आसपास के सीसीटीवी की छानबीन की, संदिग्ध और जिस वाहन में पीड़िता को अगवा किया गया था, उनमें से दो आरोपियों की पहचान पीड़िता के रिश्तेदार द्वारा की गई।

जिनका उन्होंने नाम और पता चेंबूर चीता शिविर क्षेत्र में उनके रहने के स्थानों के बारे में बताया। कांदिवली पुलिस की टीम ने चीता कैंप पुलिस से संपर्क साधकर आरोपी की तलाश छानबीन तेज कर दी जहां आरोपियों के पकड़े जाने के डर से उन्होंने खुद दूसरे दिन पीड़ित को ऑटो रिक्सा में बैठाकर रिहा कर दिया।
फिलहाल कंदीवाली पुलिस ने दोनों आरोपियों में एक कार का मालिक और दूसरे ड्राइवर की पहचान जाफर खान (27) और अब्दुल कादर शेख (21) के रूप में की गई। जिनको कोर्ट में पेश किया गया जहां दोनो आरोपियों को 7 अक्टूबर तक पुलिस रिमांड मिली है।
इस घटना में आरोपियों से जब अपहरण का कारण पूछा गया, तो पुलिस को बताया कि पीड़ित और आरोपी दोनों यूपी के एक ही गांव के निवासी हैं। आरोपी के घर से एक लड़की पीड़िता के रिश्तेदार के साथ भाग गई है, आरोपी को शक था कि पीड़ित ने उन्हें भगा दिया था और उन्हें मुंबई में छिपाकर रखा था, इसी का पता लगाने के लिए उन्होंने पीड़िता का अपहरण कर उसे बंदी बना लिया।
पीड़ित ने बताया कि किडनैपर ने चेंबूर में एक कमरे में बंद कर रात भर उस लड़के के ठिकाने के बारे में पूछा और उसे मारा पीटा।बताया कि “उन्होंने मुझे कार में खींच लिया, और मुझे पीटना शुरू कर दिया, उन्होंने मुझे हर तरह से पीटा और चेंबूर में ले गए और मुझे एक कमरे में बंद कर दिया।

155 views
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: