शहर में अधूरा विकास कार्य अधिकारियों और ठेकेदारों की मिलीभगत का नतीजा।

वरिष्ठ संवाददाता।
ठाणे। ठाणे महानगर पालिका में विरोधी पक्षनेता शानु पठाण ने इस बात का पर्दाफाश किया है कि कई प्रभाग समितियों में मनपा अधिकारियों तथा ठेकेदारों की सांठगांठ से विकास कामों को अकारण बाधित कर दिया गया है। पठाण ने चेतावनी दी है कि यदि १५ दिनों के भीतर अधूरे विकास काम पूरे नहीं हुए तो वे इसकी शिकायत सीधे राज्य सरकार से करेंगे।

वैसे तो ठाणे मनपा अंतर्गत कई प्रभागों में विकास काम किया जा रहा है। लेकिन कलवा, दिवा तथा मुबा प्रभाग समिति में तो हद हो गई है। इस बाबत पठान ने कई प्रभाग समितियों का दौरा कर जारी विकास कामों का जायजा लिया। इसी क्रम में पाया गया है कि कलवा के साथ ही मुंब्रा प्रभाग समिति अंतर्गत जलवाहिनी, यूटीडब्ल्यूटी रोड, भूमिगत केबल, मलनिस्सरण आदि का काम अधूरा पड़़ा है। पठान ने इस बात का भी पर्दाफाश किया है कि काम पूरा नहीं होने के बाद भी ठेकेदारों को बिलों की अदायगी हो रही है। इसके लिए कार्यकारी अभियंता दोषी  हैं। ठेकेदारो के साथ उनकी मिलीभगत है।
पठान ने कहा है कि अधूरे विकास कामों को लेकर जब स्थानीय नगरसेवक मनपा अधिकारी या फिर ठेकेदारों से शिकायत करते हैं तो उनकी बातों की अनदेखी की जा रही है। इसके साथ ही शहर में सडकों के काम पूरे नहीं होने के कारण दुकानदारों का कारबार प्रभावित हो रहा है। यदि १५ दिनों में इन कामों को पूरा नीं किया गया तो वे इसकी शिकायत सीधे राज्य के सीएम उद्धव ठाकरे से करेंगे। इतना ही नहीं वे ठेकेदारों व अधिकारियों के जांच की भी मांग करेंगेे। युटीडब्ल्यूटी का काम सह्याद्री, मल:निस्सारण का काम के. ई इन्फ्रा; वॉटर रिमॉल्डींग का काम शयानो;और  अंडरग्राउंड केबल डालने का काम सागार साई ठेकेदार कर रहा है। उन्होंने इसे काली सूची डालने का भी आग्रह किया है।

84 views
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: