निवासी अतिधोखादायक इमारतों को जल्द खाली करो स्थानीय प्रशासन को पालकमंत्री शिंदे का निर्देश।

समर प्रताप सिंह
ठाणे। ठाणे जिले में अतिवृष्टि के कारण स्थिति विस्फोटक है। ऐसी स्थिति में धोखादायक  इमारतों को जल्द स्थानीय प्रशासन खाली करवाए। ताकि मौतों की संभावना को कम किया जा सके। अतिवृष्टि की संभावना के मद्देनजर हुई बैठक में वे बोल रहे थे। बैठक में विभिन्न विभागों के अधिकायिों के साथ ही जिलाधिकारी तथा मनपाओं के आयुक्त भी शामिल थे।
जिले में आपात्कालीन परिस्थिति का सामना कैसे किया जाएगा, इस बाबत सुरक्षा तैयारियों का जायजा शिंदे ने लिया। उन्होंने कहा कि ठाणे, उल्हासनगर, भिवंडी में अतिधोखादायक इमारतों को लेकर गंभीर प्रश्न है। यदि थोड़ी सी भी लापरवाही हुई तो लोगों की जाने जा सकती हैं। इसके साथ ही पत्थर खिसकने वाले स्थानों पर रहने वाले नागरिकों को भी तत्काल हटाने का उन्होंने निर्देश अधिकारियों को दिया।
मॅनहोल पर ढक्कन लगाने के साथ ही खराब टंसफार्मर तुरंत बदलने का भी निर्देश उन्होंने दिया। एमएमआरडीए,एमएसआरडीसी, पीडब्लूडी, पालिका प्रशासन को पालकमंत्री शिंदे ने निर्देश दिया कि रास्तों की दुरुस्ती का काम जल्द पूरा किया जाए। बैठक में ठाणे जिलाधिकारी राजेश नार्वेकर, ठाणे मनपा आयुक्त डॉ. विपीन शर्मा, नवी मुंबई मनपा आयुक्त अभिषेक बांगर और सभी  मनपा आयुक्त, निवासी उपजिलाधिकारी डॉ. शिवाजी पाटील के साथ ही एमएमआरडीए, एमएसआरडीसी, पीडब्लूडी, मध्य रेलवे, एमएसईबी के अधिकारी भी शामिल थे। शिंदे ने जिले की तमाम मनपाओं को निर्देश दिया कि वे अपना-अपना टीडीआरएफ टीम तैयार करे। ताकि आपदा की स्थिति में बेहतर बचाव कार्य किया जा सके।

148 views
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: