बिजली करंट लगने से दो बंदरो की मौत।

वरिष्ठ संवाददाता।

ठाणे।संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान से भटक कर जंगली जानवर एवं जीव जंतु अक्सर रहिवासी बस्तियों में चले आते है। वन बिभाग के अधिकारी पकड़कर उन्हें सही सलामत फिर से जंगलों में छोड़ देते है पर जंगल से आए दो बंदरो को नही बचाया जा सका है। करंट लगने से उनकी मौत हो गयी है।

मिली जानकारी के मुताबिक संजय गांधी उद्यान सेे सटे वागले स्टेट परिसर रोड नम्बर 34 स्थित शिव कृपा चाल परिसर में घुसे दो बंदर शनिवार की सुबह खूब उछल कूद मचाये हुए थे। एक झोपडो से दूसरे झोपडो पर कूदते कूदते बस डिपो आगार के पास पहुँच गए और एक बिजली के खंभे पर चढ़ गए। बिजली के तारों का स्पर्श होते ही दोनो झटका खाकर जमीन पर गिर पड़े औऱ बेहोश हो गए।

सुबह के करीब 9 बजे हुई इस दिल दहला देने वाली घटना की खबर मिलते ही मनपा आपदा प्रबंधन तथा वन बिभाग के अधिकारी मौके पर पहुंच गए। वन विभाग के अधिकारियों ने जांच के बाद दोनो बंदरो को मृत घोषित कर दिया। आपदा प्रबंधन बिभाग के मुख्य अधिकारी संतोष कदम ने बताया कि बंदरो के शवों को वन बिभाग के हवाले कर दिया गया है।

संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान से सटे होने के कारण वागले इस्टेट परिसर में अक्सर बंदरो,जंगली जानवरों तथा जीव जंतुओं का आना जाना लगा रहता है। वन बिभाग की कई टीमें इस पर नजर रखती है और सूचना मिलते उन्हें जंगलों में छोड़ देते थे।मगर इस बार ऐसा नही हो पाया और करंट के चपेट में आने से दो बंदरों ने अपनी जानगंवा बैठे।

156 views
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: