कॉन्ट्रेक्ट मनपाकर्मी भुखमरी की कगार पर,दो माह से नही मिला वेतन

श्रमजीवी कामगार संघटना ने कमिश्नर को दिया निवेदन,किया तत्काल पेमेंट देने की मांग

भिवंडी यूसुफ पूरी।

भिवंडी।  कोरोना काल मे जान जोखिम में डालकर ईमानदारी से ड्यूटी करने के बावजूद भिवंडी मनपा में कांट्रेक्ट पर काम करने वाले आठ दर्जन से ज्यादा मजदूरों को दो माह से वेतन नही मिला है।जिसके कारण उनके सामने भुखमरी की नौबत आ गई है।

जिसे देखते हुए उक्त तमाम मजदूरों को तत्काल वेतन की भुगतान की मांग मनपा आयुक्त को ज्ञापन देकर किया है। मालूम हो कि भिवंडी मनपा के जलापूर्ति विभाग में सौ से ज्यादा लोग तीन ठेकेदार के माध्यम से काम करते है।जो पिछले पंद्रह वर्षों से जल आपूर्ति विभाग में पाइपलाइन बोरवेल रखरखाव, फिल्टर और वॉलमैन के रूप में काम कर रहे श्रमिकों को जुलाई 2019 से न्यूनतम मजदूरी अधिनियम के अनुसार मजदूरी स्वीकृत की गई है। पर उस अनुसार श्रमिकों को भुगतान नहीं किया जा रहा है। इसके अलावा, समय से पहले शिल्प, भविष्य निधि, सेप्टिक वाहन, दस्ताने, मास्क, पानी के जूते, वर्दी, न्यूनतम मजदूरी कानून जैसी सुविधाएं हैं।

महानगरपालिका प्रशासन उन्हें प्रदान करने से टालमटोल कर रहे है।जबकि बढ़ते संक्रमण के बावजूद, श्रमिक अपने कर्तव्यों का पालन करने के लिए अपनी जान जोखिम में डाल रहे हैं। इसके बावजूद अनुबंध कर्मचारियों को कानून के अनुसार जुलाई और अगस्त में दो महीने का न्यूनतम वेतन नहीं मिला।जिसके कारण इन श्रमिकों पर भूखे मरने की बारी आ गई है ।

जिसके मद्देनजर श्रमजीवी कामगार संघटना उपाध्यक्ष दत्तात्रय कोलेकर ठाणे जिला अध्यक्ष अशोक सापटे,श्रमजीवी कामगार संघटन भिवडी तालूका अध्यक्ष अँड रोहिदास पाटील ने मनपा आयुक्त डॉ पंकज आशिया को पत्र देकर न्यूनतम मजदूरी कानून के अनुसार इन श्रमिकों की रुका मजदूरी देने के साथ ही तमाम मनपा की तरफ से अन्य सामग्री भी देने की मांग की है।जिसके बाद आयुक्त ने तत्काल बेतन सहित अन्य सामग्री देने का आश्वासन दिया है।

11 views
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: