केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर एवं कस्टम विभाग ने कई नोटिफिकेशन के माध्यम से जीएसटी में दी राहत.

उदयभान पांडेय ठाणे।
देेेश। केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर एवं कस्टम विभाग ने कई नोटिफिकेशन के माध्यम से जीएसटी में दी राहत…
अखिल भारतीय खाद्य तेल व्यापारी महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं कंफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (केट) के महानगर अध्यक्ष श्री शंकर ठक्कर ने बताया कि कल कई नोटिफिकेशन के माध्यम से केंद्रीय प्रत्यक्ष कर एवं कस्टम बोर्ड के द्वारा जीएसटी के अंदर व्यापारियों को राहत दी गई है बताया कि ऐसे व्यापारी जिन का वार्षिक टर्नओवर 2 करोड़ तक है उनको वर्ष 2019-20 का वार्षिक रिटर्न gstr-9 भरना स्वैच्छिक कर दिया गया है।

इतना ही नहीं ऐसे व्यापारी जिनका कुल वार्षिक बिक्री 5 करोड़ तक है उनके लिए भी वर्ष 2019-20 का ऑडिट का रिटर्न gstr-9c भरना भी स्वैच्छिक कर दिया गया है। कहने का तात्पर्य यह है कि जो व्यापारी 5 करोड़ तक का टर्नओवर करते हैं वह वार्षिक रिटर्न GSTR 9 तो भरेंगे किंतु ऑडिट रिपोर्ट GSTR 9C भरना स्वैच्छिक होगा।
इतना ही नहीं अब ऐसे करदाता जिन का वार्षिक टर्नओवर 5 करोड़ से अधिक है उन्हें 6 डिजिट तथा जिनका 5 करोड़ से कम है उन्हें 4 डिजिट का एच एस एन कोड बी 2 बी इन वॉइस में देना आवश्यक हो गया है। आगे कहा कि यद्यपि मामूली सुधार है किंतु छोटे व्यापारियों को इससे काफी राहत मिलेगी सरकार को चाहिए कि बड़ा दिल करते हुए धारा 16 (4) एवं 36(4) को अगले 1 वर्षों तक के लिए समाप्त कर देना चाहिए

218 views
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: