परवासी फाउंडेशन की प्रताडऩा झेल रहे हैं आदिवासी

समर प्रताप सिंह
ठाणे। ठाणे के येऊर में स्थित परवासी फाउंडेशन अपनी कारगुजारियों के कारण लगातार चर्चा में आ रहा है। फाउंडेशन ने पहले तो नौ अभियंता युवतियों को बंधक बनाकर काम करवाने की साजिश की थी। लेकिन मामले का फंडाफोड़ हो जाने के बाद भाजपा ने इन युवतियों को मुक्त कराया था। अब एक और नया विवाद फाउंडेशन ने पैदा कर दिया है। कहा जा रहा है कि येऊर में आदिवासी परिवारों को हर स्तर पर संस्था प्रताडि़त कर रहा है।

इसी क्रम में भाजपा ठाणे शहर अध्यक्ष व विधायक निरंजन डावखरे के नेतृत्व मेंं आदिवासी शिष्टमंडल ने स्थानीय वर्तकनगर पुलिस स्टेशन में फाउंडेशन के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है।
इस मामले को पुलिस ने गंभीरता से लिया है। सहायक पुलिस आयुक्त पंकज शिवसाट ने शिष्टमंडल को अश्वासन दिया और कहाकि इस मामले की गहराई से जांच कर उपयुक्त कार्रवाई की जाएगी। शिकायत में कहा गया है कि येऊर में परवासी फाउंडेशन ने वर्ष २०१७ से कामकाज करना शुरू किया है। संस्था ने स्थानीय आदिववासियों को आश्वासन दिया था कि यहां कम कीमत पर वेंटिलेटर का निर्माण कार्य किया जाएगा। इससे उन्हें रोजगार भी मिलेगा।
लेकिन बाद में यह आश्वासन एक सपना बनकर ही रह गया। आदिवासियों को किसी तरह का रोजगार नहीं दिया जा रहा है। स्थानीय आदिवासी यदि जंगल जाते हैं तो संस्था के लोग उसे रोकते हैं। इतना ही नहीं संस्था के लोग आदिवासियों को धमकियां भी देते हैं। आदिवासियों के खिलाफ पेड़ काटने की फर्जी शिकायत की जा रही है। इतना ही नहीं कहा जा रहा है कि आदिवासियों को जेल में डाल दिया जाएगा।
पुलिस को दिए गए निवेदन में कहा गया है कि परवासी फाउंडेशन द्वारा आसपास की जमीन जबरन कब्जाने का प्रयास किया जा रहा है। इस मामले को लेकर निरंजन डावखरे का कहना है कि संस्था का दावा है कि वह वेंटिलेटर निर्माण करता है। लेकिन कोरोना संकट के समय एक भी वेंटिलेटर आदिवासियों को नहीं दिया गया है। इसके साथ ही आदिवासियों पर धार्मिक अत्याचार किया जा रहा है। पुलिस शिकायत में कहा गया है कि संस्था के लोग आदिवासी हिंदुओं को देवी-देवताओं की पूजा-अर्चना करने से रोकते हैं।
इतना ही नहीं वैसी आदिवासी युवती जो संस्था का काम कर रही है , परिवार के साथ उसके संबंध को समाप्त किया जा रहा है। आदिवासी महिलाओं ने विधायक निरंजन डावखरे की उपस्थिति में सहायक पुलिस आयुक्त पंकज शिवसाट को निवेदन दिया है। शिष्टमंडल में नगरसेविका मृणाल पेंडसे, स्नेहा आंब्रे, भाजपा के जिला महासचिव विलास साठे, रोहित जोशी, अश्विन शेट्टी, सचिन मोरे, स्थानिक नागरिक किशोर म्ह्मात्रे आदि भी शामिल थे।

127 views
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: