बैंक कर्ज वसूली पर लगे रोक राज्य के मुख्यमंत्री ठाकरे से कांग्रेस की मांग

वरिष्ठ संवाददाता
ठाणे। राज्य के सीएम उद्धव ठाकरे से कांग्रेस ने मांग की है कि पूरे राज्य में बैंक कर्ज वसूली पर वर्ष २०२० तक रोक लगा दी जाए। कहा गया है कि गत छह महीने से लोग कोरोना संकट के कारण बुरे हाल में हैं। किसी तरह का कारोबार नहीं हो पाया है। जिस कारण ऐसे लोग बैैंक कर्ज का किश्त अदा करने में असमर्थ हैं। इसके बाद भी बैंक कर्जदारों को किश्त वसूली के लिए परेशान किया जा रहा है।
इस बाबत महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस कमिटी सदस्य मिलिंद खराडे ने राज्य के सीएम उद्धव ठाकरे के साथ ही डिप्टी सीएम अजीत पवार, राजस्व मंत्री व महाराष्ट्र प्रदेश काँग्रेस अध्यक्ष बाळासाहेब थोरात को लिखित निवेदन दिया है। जिसमें इस बात का विशेष जिक्र किया गया है कि कर्ज वसूली के लिए बैंक प्रतिनिधि कर्जदारों को परेशान कर रहे हैं। एक तो कोरोना संकट ने आम लोगों में मानसिक तनाव पैदा कर दिया है। कर्जदार इस समय नियमित तौर पर बैंक किश्त अदा करने में समर्थ नहीं हैं।
राज्य सरकार से खराडे ने मांग की है कि कोरोना संकट को देखते हुए राज्य के ऐसे लोग जिन्होंने बैंक से १० लाख से कम कर्ज लिए, उसकी किश्त अदायगी पर वर्ष २०२० के अंत तक रोक लगा दी जाए। इससे सामान्य कर्जदारों को काफी राहत मिलेगी। इन बातों का जिक्र करते हुए खराडे ने कहा है कि महाराष्ट्र में निजी बैंकों से जिन्होंने कर्ज लिया है, उसे अधिक परेशान किया जा रहा है। इस बाबत राज्य सरकार निर्देश जारी करे। ताकि कर्जदारों को कुठ समय के लिए राहत का एहसास हो सके।
75 views
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: