दिवाली में नही फूटे फटाके प्रदूषण से मिली बड़ी राहत

उदयभान पांडेय।

ठाणे। मनपा महापौर नरेश म्हस्के तथा आयुक्त डॉ विपिन शर्मा द्वारा फटाका मुक्त पर्यावरण पूरक दीपावली मनाने की अपील का शहर वाशियो पर गहरा असर हुआ है। दीपावली के दौरान पिछले दो वर्षों की अपेक्षा इस वर्ष हवा तथा ध्वनि प्रदूषण में कमी दर्ज की गयी है।
पवित्रता तथा सामाजिक दूरी का पालन करते हुए पर्यावरण पूरक दीपावली मनाने का आह्वान मनपा प्रशासन द्वारा किया गया था।

मनपा के इस आह्वान का ठाणेकरो का सकारात्मक रुख देखने को मिला है। मनपा प्रदूषण नियंत्रण बिभाग द्वारा दीपावली के पूर्व तथा दीपावली के बाद की हवा के गुणवत्ता की जांच की गयी। 7 नवंबर को दीपावली पूर्व 24 घंटे के हवा में धूल के कण की मात्रा 126 मायक्रोग्राम प्रति घन मीटर, नाइट्रोजन ऑक्सीजन की मात्रा 34 मायक्रो ग्राम घन मीटर तथा सल्फरडाई ऑक्साइड की मात्रा 24 मायक्रो ग्राम प्रति घन मीटर थी। वही ध्वनि की अधिकतम तीब्रता 69 डीसीबल दर्ज की गई थी। इसी तरह दीपावली के बाद 14 नवंबर लक्ष्मी पूजन के दिन जांच की गयी तो 24 घंटे तक हवा में धूल की मात्रा 133 मायक्रो ग्राम प्रति घन मीटर, नायट्रोजन ॲाक्साईड की मात्रा 37 मायक्रो ग्राम प्रती घनमीटर तथा सल्फरडाय ॲाक्साईड की मात्रा 29 मायक्रो ग्राम प्रती घनमीटर थी। वही ध्वनि की अधिकतम तीव्रता 72 डेसिबल दर्ज की गयी थी।

वर्ष 2018 तथा 19 की तुलना में इस वर्ष हवा में धूल कण की मात्रा 44 प्रतिशत कम दर्ज की गयी है। ध्वनि प्रदूषण में 21 से 29 प्रतिशत तक की कमी दर्ज की गयी है। हवा की गुणवत्ता में 37 प्रतिशत का सुधार हुआ है। पिछले वर्ष की अपेक्षा ध्वनि प्रदूषण में भी भारी कमी दर्ज की गयी है।लक्ष्मी पूजन के दिन शाम के 6 बजे से रात्रि कर 10 बजे के बीच अधिकतम 72 तथा न्यूनतम 61 डीसीबल दर्ज की गयी है।

54 views
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: