मुंबई उच्चन्यायालय मडगांव बम विस्फोट मामले के आरोपियों को किया निर्दोष मुक्त

मा. मुंबई उच्च न्यायालय गोवा खंडपीठ ने, 2009 मडगांव विस्फोट प्रकरण में आरोपी बनाये गए सनातन साधकों को निर्दोष मुक्त किया।

मुंबई।16 अक्तूबर 2009 में मडगांव शहर में हुए विस्फोट मामले में सनातन के 6 निर्दोष साधकों को उस समय की वर्तमान कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में आरोपी बनाया गया था। जिन 6 सनातन के निर्दोष साधक को आरोपी बनाया गया था आज मा. मुंबई उच्च न्यायालय के गोवा खंडपीठ ने सत्र न्यायालय का निर्णय कायम रखते हुए सभी आरोपियों को निर्दोष मुक्त किया।
उक्त विस्फोटक घटना 16 अक्टूबर 2009 गोवा के मडगांव शहर मे दिवाली की पूर्वसंध्या पर हुई थी।इस घटना में सनातन संस्था के दो कार्यकर्ता मारे गये थे।
उस समय बताया गयाकि मारे गए इन दोनों का दक्षिणपंथी हिंदू संगठन सनातन संस्था से संबद्ध है। जिसे लेकर आरोप करते हुए सनातन संस्था के राष्ट्रीय प्रवक्ता चेतन राजहंस ने कहा हैकि कांग्रेस की तत्कालीन सरकार के इशारों पर विस्फोट में मामले में 6 निर्दोष सनातन साधकों की गिरफ्तारी हुई और सभी को जेल में डाल दिया गया। अनायास 4 वर्षो तक जेल में बंद निरापराध साधक तभी से लेकर आज तक न्याय की आस में सनातन साधकों ने अपने ऊपर लगे कलंक को ढोते रहे और सत्यनिष्ठा की भावना को लेकर प्रताड़ना सहते रहे।
परन्तु आज विराम लग गया।आखिरकार सत्य की विजय हुई।
इससे संबंधित अपील पर सुनवाई करते समय आज मा. मुंबई उच्च न्यायालय के गोवा खंडपीठ ने सत्र न्यायालय का निर्णय कायम रखते हुए सभी आरोपियों को निर्दोष मुक्त किया था । सनातन संस्था न्यायालय के इस निर्णय का स्वागत करती हैं । इस निर्णय के कारण सनातन संस्था का निर्दोषत्व पुनः एक बार सिद्ध हुआ है।
सनातन संस्था के राष्ट्रीय प्रवक्ता चेतन राजहंस ने कहाकि
भगवा आतंकवाद का मिथ्या प्रचार करने वालों को यह करारा थप्पड है।

77 views
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: