बन्दर की जान बचाने को वाले घायल को 5 लाख का इनाम

उदयभान पाण्डेय।

ठाणे।अचानक मार्ग में आये एक बंदर को बचाने के चक्कर मे हुई दुर्घटना में घायल युवक को 5 लाख का मुवायजा देने का आदेश दुर्घटना प्राधिकरण ने दिया है। बीमा कंपनी के विरोध के बावजूद प्राधिकरण ने यह आदेश दिया है।
तीन वर्ष पूर्व कल्याण स्थित अडवली गांव निवासी उल्लास कांबले अहमद नगर से कल्याण आ रहे थे। भोरंडे गाँव के समीप उनकी बाइक के सामने अचानक एक बंदर आ गया। बंदर की जान बचाने के लिए उन्होंने अपनी बाइक को दूसरी तरफ मोड़ दिया।इसी दौरान सामने से आए एक वाहन ने उन्हें ठोकर मार दी।ठोकर लगने के बाद वे बुरी तरह से घायल हो गए।

अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद उन्होंने ठाणे जिला मोटर दुर्घटना दावा प्राधिकरण में अपील किया जिसमें बताया गया कि वे एक सरकारी कर्मचारी है। महीने का 38 हजार 440 रुपया वेतन पाते है।दुर्घटना की वजह से अस्पताल में भर्ती औऱ छुट्टी लेना पड़ा। अस्पताल का खर्च तथा छुट्टी की भरपाई के लिए उन्हें मुवायजा मिलना चाहिए। इस मामले की अंतिम सुनवाई प्राधिकरण के सदस्य एवं जिला न्यायाधीश एम एम वली मोहम्मद की अदालत में हुई। बंदर को बचाते समय जिस वाहन से दुर्घटना हुई थी उसे जुन्नर निवासी राम चंद्र भास्कर चला रहे थे।

प्राधिकरण द्वारा भास्कर को भी नोटिस जारी किया गया था पर वे सुनवाई में कभी शामिल नही हुए।सुवाई के दौरान न्यू इंडिया इन्सुरेंस कंपनी के वकील के वी पुजारी का कहना था कि इस दुर्घटना के लिए कांबले खुद जिम्मेदार है। उन्होंने इस दावे को ख़ारिज करने की मांग की। दोनो पक्षो की सुनवाई करने के बाद न्यायाधीश वली मोहम्मद ने बीमा कंपनी तथा वाहन चालक को बतौर मुवायजा कांबले को 5 लाख 88 हजार 890 रुपया देने का आदेश दिया है। समय पर मुवायजा न देने पर प्रतिवर्ष 7 प्रतिशत के दर से ब्याज देना पड़ेगा। इसका भी उल्लेख आदेश में किया गया है।

107 views
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: