भिवंडी मनपा अधिकारियों के मिलीभगत से बिल्डर द्वारा अबैध बिल्डिंग हादसे को दे रही दावत भय के साये में रहिवासी

भिवंडी। पिछले दिनों भिवंडी के पटेल कंपाउंड में हुए जिलानी बिल्डिंग हादसे के बाद मनपा प्रशासन पुराने जर्जर बिल्डिंगों पर अबैध तरीके से चढ़े महले पर कार्यवाई का मूड बना रही है।

जबकि शहर के हर इलाके में सैकडों पुरानी व जर्जर बिल्डिंगों पर अबैध निर्माण बदस्तूर जारी है।बिल्डिंग की लोड छमता कम होने के बावजूद दनादन बनाए जाने वाले महले व देखरेख के अभाव में उक्त तमाम बिल्डिंगें हादसे को दावत दे रही है।जिसके कारण इसमें रहने वालों में भय व्याप्त है।
मालूम हो कि भिवंडी मनपा इलाके में सैकडों बिल्डिंग 20 वर्ष से ज्यादा पुरानी है।इतना ही नही कई बिल्डिंग तो ग्राम पंचायत के समय की है।उक्त बिल्डिंगों की लोडिंग छमता काफी कम है। साथ ही काफी पुरानी होने के कारण जर्जर हालत में भी है।इसके बावजूद बिल्डिंग मालिक बिल्डरों से मिली भगत कर मनपा अधिकारियों,बिट निरीक्षकों व इंजीनियरों से साठगांठ कर बिना किसी प्रकार का मनपा प्रशासन से परमिशन लिए उक्त बिल्डिंगों पर एक के बाद एक कई महले बना लेते है।

जबकि अभी भी शहर में ऐसे बिल्डिंगों पर अबैध महला बनाने का काम शहर के हर इलाके में आज भी बदस्तूर जारी है।जर्जर बिल्डिंगों पर अबैध तरीके से बने महले को घर मालिक दुसरो को अच्छे दामो में बेच देता है।इतना ही नही इन बिल्डिंगों का मालिक व रहवासियो द्वारा देखभाल तक नही किया जाता है।पानी की पाइप लाइन के साथ बिल्डिंग की ड्रेनेज लाइन तक अस्त व्यस्त स्थिति में रखती है। ऐसे ही पुरानी व खतरनाक बिल्डिंग पर अबैध तरीके से बनने वाली महलों की वजह से शहर में आए दिन बिल्डिंग गिरने की घटना घट रही है।

पिछले पांच साल में ऐसे छह खतनाक बिल्डिंग धरासाई होने से अब तक 65 लोगों की मौत हो चुकी है।जबकि कई दर्जन लोग घायल हो चुके है।सूत्र तो बताते है अभी तक शहर में जितने बिल्डिंग गिरने के हादसे हुए है उसका मुख्य कारण भी यही रहा है।बता दे कि बहुजन महा पार्टी के भिवंडी शहर जिला अध्यक्ष अंसारी अब्दुल सलाम बस्तीवाला ने एक वर्ष पूर्व पिरानी पाड़ा में मात्र छह साल पुरानी बिल्डिंग गिरने के बाद अबैध तरीके से बन रहे उक्त बिल्डिंगों पर कार्यवाई की मांग को लेकर मनपा मुख्यालय के सामने धरना भी दिए थे।बावजूद प्रशासन द्वारा इन जर्जर बिल्डिंगों पर अबैध तरीके से बनाए जा रहे महले को रोकने की कोई जहमत नही उठाया।लेकिन पटेल कंपाउंड के जिलानी बिल्डिंग हादसे के बाद मनपा प्रशासन ऐसे बिल्डिंगों पर कार्यवाई की मन बना लिया है।

भिवंडी मनपा आयुक्त पंकज आशिया थोखदायक बिल्डिंगों को लेकर काफी गंभीर है।उन्होंने बताया कि पहले शहर की जर्जर बिल्डिंगों की जांच बाहर से टीम को बुलाकर किया जाएगा।इसके बाद अबैध बिल्डिंग पर बने अबैध महले पर दूसरी बार जांच शुरू किया जाएगा।उन्होंने बताया कि भिवंडी की टीम इस प्रकार की जांच में मैनेज हो जाती है।

इसलिए इसके लिए भी बाहर से आर्किटेक की टीम बुलाकर इस प्रकार की बिल्डिंग पड़ताल की जाएगी।डॉ आशिया ने बताया कि जो ठीक हालात में नही होगी उस पर तोड़क कार्यवाई की जाएगी।जो मजबूत स्थिति में होगी उसका एक्ट्रक्चर एडिट कराया जाएगा।ताकि आने वाले समय मे बिल्डिंग हादसे से भिवंडीवासियों को बचाया जा सके और पुनः बिल्डिंग हादसे की पुनरावृत्ति न हो।आयुक्त के इस पहल की शहर में चर्चा व जनता द्वारा स्वागत किया जा रहा है

67 views
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: