जिले में कम हो रहा है कोरोना का कहर

समर प्रताप सिंह
ठाणे। ठाणे जिले के साथ ही जिले के शहरी भागों में भी हाल के दिनों में कोरोना का कहर कम होता दिख रहा है। प्रशासनिक स्तर पर कोरोना को मात देने प्रयास जारी हैं। कोरोना टेस्टिंग की गति भी बढ़ा दी गई है। आज से १५ दिन पहले ठाणे जिले में जहां रोजाना १७०० से अधिक कोरोना मरीज पाए जा रहे थे। अब वह घटकर रोजना १००० पर आ गया है। इस आंकड़े से पुष्टि हो रही है कि आनेवाले समय में ठाणे जिले को कोरोना के कहर से और अधिक राहत मिलेगी। इसके साथ ही कोरोना संक्रमितों की मौत के ग्राफ में आई गिरावट खुशी का संकेत है।
वैसे ठाणे जिले को कोरोनामुक्त कराने जिलाधिकारी राजेश नार्वेकर शुरू से ही प्रयत्नशील रहे हैं। इसके साथ ही शहरी भागों में स्थानीय मनपा प्रशासन भी कोरोना को मात देने प्रयत्नशील रहा है। जबकि ग्रामीण भागों में जिलापरिषद के माध्यम से काम किया जा रहा है। इस तरह संयुक्त प्रयास का परिणाम सामने आ रहा है। ग्रामीण भागों में भी कोरोना के ग्राफ में भारी कमी आई है।
ठाणे जिले में अब तक दो लाख से अधिक लोग कोरोना संक्रमित हुए हैं। इसमें एक लाख ९० हजा से अधिक रोगी ठीक हुए हैं। साथ ही रोगियों के ठीक होने का प्रमाण ९२ प्रतिशत पर आ गया है। प्रशासनिक स्तर पर इस बात को लेकर विशेष राहत का अनुभव किया जा रहा है कि जिले में रोजाना पाए जानेवाले रोगियों में भारी गिरावट आई है।
अब तक ठाणे जिले में पांच हजार २२६ कोरोना संक्रमितों की मौत हो चुकी है। इसके साथ ही शहरी भागों में भी रोगियों की संख्या में गिरावट दर्ज की गई है। विशेषकर ठाणे शहर जहां रोजाना ३५० से अधिक रोगी पाए जा रहे थे। अब रोगियों की संख्या गिरकर २०० के आसपास आ गया है। कल्याण-डोंबिवली और नवी ं मुंबई शहर में भी रोजाना ४०० नए रोगी ख्पाए जा रहे थे। अब यहां रोजाना २२५ नए मरीज पाए जा रहे हैं। इसके साथ ही मीरा-भायंदर व ग्रामीण भागों में भी अब १५० रोगी और इसके साथ ही उल्हासनगर, अंबरनाथ, भिवंडी और बदलापूर शहर में रोजाना ५० रोगी पाए जा रहे हैं। जबकि पहले यहां अधिक रोगी पाए जा रहे थे।

113 views
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: