पालकमंत्री के निर्णय का भाजपा ने किया विरोध,सरकारी विभाग ठाणे मनपा को नहीं देता सहयोग

वरिष्ठ संवाददाता
ठाणे। ठाणे मनपा क्षेत्र से होकर सावर्वजनिक बांधकाम विभाग, एमएमआरडीए और एमएसआडीसी के स्वामित्व का मार्ग गुजरता है। हर साल बारिश में इन मार्गों पर गड्ढे की भरमार हो जाती है। लेकिन इसकी उलाहना ठाणे मनपा को मिलती रहती ह। इस बीच ठाणे के पालकमंत्री एकनाथ शिंदे ने आदेश दिया है कि इन सडकों की दुरुस्ती का काम ठाणे मनपा करे। लेकिन भाजपा के वरिष्ठ नगरसेवक मिलिंद पाटणकर ने इसका विरोध किया है। कहा गया है कि अन्य सरकारी विभागों का भार ठाणे मनपा क कंधे पर नहीं डाला जाए।
बताया गया है कि दो साल पहले ठाणे मनपा ने अन्य सरकारी विभागों के रास्ते की दुरुस्ती का काम किया था। लेकिन संबंधित विभाग द्वारा राशि की अदायगी ठाणे मनपा को नहीं की गई है। ऐसी स्थिति में ठाणे मनपा पर अतिरिक्त आर्थिक बोझ डालना कतई उपयुक्त नहीं है। इन बातों का जिक्र करते हुए मिलिंद पाटणकर ने कहा है कि हर साल उक्त सरकारी विभागों की लापरवाही के कारण ठाणे मनपा को गड्ढ़े भरने $का काम करना पड़ रहा है।
जानकारी के अनुसार दो साल पहले ठाणे मनपा ने एमएसआरडीसी के स्वामित्व वाले मार्गों की दुरुस्ती का काम किया था। जिस पर ७५ लाख ११ हजार ६१० रुपए तथा २४ लाख ३३ हजा ८० रुपए खर्च हुए थे। इस बिल की जांच के लिए एमएसआरडीसी ने दो सलाहकारों की नियुक्ति की थी। लेकिन अब तक ठाणे मनपा को बिलों की अदायगी नहीं की गई है। पाटणकर का कहना है कि ऐसी स्थिति में पालकमंत्री एकनाथ शिंदे ठाणे मनपा पर अतिरिक्त आर्थिक भार डाल रहे हैं। यह उपयुक्त नहीं कहा जा सकता है।

17 views
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: